Sundar Pichai Biography in Hindi | सुंदर पिचाई बायोग्राफी

Advertisements

Sundar Pichai Biography in Hindi: 18 अक्टूबर 2006 वो दिन था जब माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने रातो-रात गूगल को लगभग बर्बाद कर दिया था, हुआ ये था कि सन 2006 के दौरान जब इंटरनेट एक्सप्लोरर (Internet Explorer) सबसे ज्यादा फेमस ब्राउज़र हुआ करता था, तब माइक्रोसॉफ्ट ने रातों रात google को हटाकर Bing को इंटरनेट सर्च इंजन बना दिया था इस वजह से एक ही रात में गूगल ने अपने लगभग 300 मिलियन कस्टमर्स loose कर दिए थे। और यह कहना एक दम सही रहेगा कि शायद आज हम गूगल को जानते भी नहीं अगर सुंदर पिचाई उस समय गूगल में ना होते।

एक मिडल क्लास फैमिली का लड़का जिसके घर में ना तो बचपन में टीवी होता था और ना ही कोई कार। आज वही लड़का गूगल कंपनी का CEO है बल्कि Google ki parental कंपनी ALPHABET के भी CEO है। दोस्तों आज हम इस ब्लॉग में सुंदर पिचाई के बारे में (Sundar Pichai Biography) जानेंगे।

Advertisements

सुंदर पिचाई का जीवन परिचय (Sundar Pichai Biography in Hindi)

सुंदर पिचाई फैमिली

Pichai Sundararajan जिन्हे हम सुंदर पिचाई के नाम से जानते हैं। इनका जन्म 1972 में तमिलनाडु के मदुरई सहर में एक मिडिल क्लास फैमिली में हुआ। उनके पिता मिस्टर रघुनाथ पिचाई GEC नाम की एक कंपनी में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे और इनकी मां लक्ष्मी पिचाई इनके जन्म से पहले एक स्टेनोग्राफर का काम किया करती थी। एक आम middle class फैमिली की तरह इनकी फैमिली भी उस दौरान एक 2 room अपार्टमेंट में रहा करती थी। और उस टाइम पर इनकी फैमिली की फाइनेंशियल सिचुएशन का अब इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं, कि उनके पिता को अपने लिए एक स्कूटर खरीदने के लिए 3 साल तक सेविंग करनी पड़ी थी। जब सुंदर पिचाई 14 साल के थे तब जाकर इनके घर में इनका पहला लैंडलाइन टेलीफोन आया था।

सुंदर पिचाई शिक्षण योग्यता, आईआईटी खड़गपुर

यह शुरुआत से ही काफी होनहार और इंटेलिजेंट स्टूडेंट हुआ करते थे। और इन्होंने 1993 में आईआईटी खड़गपुर से मेट्रोलॉजिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की। इंजीनियरिंग पूरी होने के बाद इन्होंने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से स्कॉलरशिप हासिल कर ली और material science & सेमीकंडक्टर फिजिक्स में एम. एस. करने के लिए अमेरिका चले गए। लेकिन अमेरिका जाने के लिए उनके पास इतना धन नहीं था लेकिन उनके माता-पिता ने जैसे तैसे करके उनको अमेरिका भेज दिया।

Advertisements

इस टाइम इनकम प्लान यह था कि एमएस की डिग्री पूरी करते ही फिर पीएचडी की पढ़ाई शुरू कर देंगे पर फिर इन्होंने बीच में ही वह आइडिया ड्रॉप कर दिया और 1995 में स्टैनफोर्ड से एमएस की डिग्री लेने के बाद अप्लाइड मैटेरियल्स (APPLIED MATERIAL) नाम की एक कंपनी में इंजीनियर एंड प्रोडक्ट मैनेजर के तौर पर काम करने लगे पर इस कंपनी में इन्होंने ज्यादा टाइम तक काम नहीं किया और फिर MBA की पढ़ाई करने के लिए इन्होंने यह जॉब छोड़ दी और Wharton University of Pennsylvania में एडमिशन ले लिया 2002 में यहां से अपने एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद इन्होंने मैकेंजी में मैनेजमेंट कंसलटेंट जॉब ज्वाइन कर ली।

सुंदर पिचाई की लव स्टोरी (Sundar Pichai Love Story)

कुछ ही दिनों के बाद अपनी आईआईटी की बैचमेट और गर्लफ्रेंड अंजली से शादी कर ली।

Advertisements

सुंदर पिचाई गूगल के सीईओ (Google success)

सन 2006 में इन्होंने फाइनली प्रेसिडेंट ऑफ प्रोडक्ट मैनेजमेंट की पोस्ट पर गूगल में जॉब ज्वाइन कर ली और उसी साल गूगल ने फ्री मेल सर्विस GMAIL भी लॉन्च किया था।

Advertisements

गूगल ज्वाइन करने के बाद इनका शुरुआती प्रोजेक्ट एक गूगल टूल बार का था, यह टूल बार उस समय काफी important था क्योंकि इस टूल बार की हेल्प से लोगों के पास इंटरनेट एक्सप्लोरर पर गूगल को डिफॉल्ट सर्च इंजन बनाने का ऑप्शन होता था। तब एरिक स्मिथ गूगल के सीईओ थे उस टाइम पर Pichai ने एरिक स्मिथ और लैरी पेज को बोला कि गूगल टूलबार प्रोजेक्ट तो ठीक है, पर हमें अपना खुद का एक ब्राउज़र भी बनाना चाहिए, यह सुनकर एरिक स्मिथ और लैरी पेज ज्यादा खुश नहीं हुए और सुंदर पिचाई का यह प्रपोजल और आईडिया उन्होंने ठुकरा दिया, और यह कहा कि इंटरनेट एक्स्प्लोरर ब्राउज़र के तौर पर काम करता है, और हम अपना ब्राउज़र बनाकर कुछ खास नहीं कर पाएंगे। इसलिए अभी सिर्फ गूगल टूलबार कंप्लीट करो।

Advertisements

एक दिन माइक्रोसॉफ्ट अपना खुद का सर्च इंजन बना लेगा और शायद हमे उससे पहले अपना ब्राउज़र बना लेना चाहिए उनकी इस बात पर भी एरिक स्मिथ और लैरी ने ज्यादा ध्यान नहीं दिया। उसके बाद Pichai ने फिर कभी ये टॉपिक नहीं छेड़ा और गूगल टूलबार के प्रोजेक्ट पर काम करते रहे फिर एक दिन वही हुआ जो सुंदर पिचाई ने बहुत पहले ही कह दिया था।

माइक्रोसॉफ्ट ने रातों-रात इंटरनेट एक्सप्लोरर से गूगल को हटाकर Bing को default सर्च इंजन बना दिया, और एक ही रात में गूगल ने अपने तीन सौ मिलियन कस्टमर्स खो दिये, पर तब तक पिचाई और उनकी टीम गूगल टूल बार लगभग बना ही चुकी थी और बचा हुआ काम पिचाई और उनकी टीम ने जी-जान लगाकर बहुत जल्दी पूरा कर दिया, और गूगल टूल बार market में लॉन्च कर दिया इससे लोगों के पास एक ऑप्शन आ जाता था जिससे वह वापस गूगल को अपना डिफॉल्ट सर्च इंजन बना लेते थे। इस टूलबार से गूगल को काफी मदद मिली और खोए हुए 80% customers गूगल के पास वापस आ गए तब तक लैरी पेज और एरिक स्मिथ को Pichai की वैल्यू समझ आ गई और लैरी पेज को फाइनली सुंदर का प्रपोजल मानने के लिए मजबूर कर दिया।

Advertisements

फिर गूगल क्रोम की शुरुआत हुई और 2008 में सुंदर पिचाई की मैनेजमेंट के अंदर उनकी टीम ने गूगल क्रोम लॉन्च कर दिया और यह अपने आप में एक grand success रहा क्योंकि कुछ ही टाइम के अंदर यह world का most used web browser बन गया, Google के इस प्रोडक्ट से सुंदर पिचाई को internationally काफी recognition मिली।

2008 में ही इन्हें वाइस प्रेसिडेंट ऑफ प्रोडक्ट डेवलपमेंट (Vice President of Product Development) की पोस्ट पर प्रमोट कर दिया गया, जिसके बाद यह गूगल को रिप्रेजेंट करते हुए हर प्रोडक्ट लॉन्च पर स्टेज पर नजर आने लगे। 2012 में इन्हें सीनियर वाइस प्रेसिडेंट ऑफ क्रोम एंड एप्स (Chrome and Apps) की पोस्ट पर भी प्रमोट कर दिया गया। और बस एक ही साल बाद इन्हें एंड्रॉयड के प्रोजेक्ट को भी लीड करने की जिम्मेदारी दे दी गई। जहां इन्होंने Android One की शुरुआत करी और करीब 5 billion लोगों तक इस OS को पहुंचाया और बहुत ही कम टाइम में सुंदर पिचाई को दोबारा प्रमोट करके Head of Product की पोस्ट दे दी गई।

Advertisements

2014 में सुंदर पिचाई को हर दूसरी बड़ी कंपनी से ऑफर आने लगे। कुछ टाइम बाद इन्हें टि्वटर के सीईओ की पोस्ट के लिए भी consider किया जाने लगा। हैरानी की बात तो यह है कि इन्हें माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ की पोस्ट के लिए भी consider किया गया था और उन्होंने गूगल के साथ अपनी लॉयल्टी नहीं छोड़ी एंड रिटेन करने के लिए इन्हें 2015 में गूगल के सीईओ की पोस्ट पर प्रमोट कर दिया गया दोस्तों कई बार इन्हें लैरी पेज से अच्छा CEO भी बताया गया है। और यही नहीं 2019 में इन्हे अल्फाबेट (Alphabet Inc.) का सीईओ बना दिया गया।

Sundar Pichai Bio, Birthday, Anual Income, Net Worth, Wikipedia

Full Name Pichai Sundararajan
Profession Business Executive
computer scientist
TitleCEO of Google & Alphabet
Born 10 June 1972 (age 49 years as of 2021 )
Annual salary  20 lakhs* USD approx
Net Worth600 Million USD
Citizenship USA
Height5ft 11inch (180cm)
Eye color Dark Brown
Hair color Black
HometownMadurai (Tamil Nadu) India
NationalityAmerican
Sundar Pichai Anual Income, Net Worth, Bio

सुंदर पिचई शिक्षण Education Qualification

SchoolJawahar Vidhyalaya, Ashok Nagar, Chennai, India
Vana Vani school, Tamil Nadu, India
College* B.Tech in Metallurgical from IIT Kharagpur, West Bengal
* MBA from Wharton School of the University of Pennsylvania, US
* M.S in Material Sciences & Engineering from Standford University, US
सुंदर पिचई शिक्षण

Family & Relationship

Affairs/GirlfriendsAnjali Pichai (Chemical Engineer)
Marital statusMarried
WifeAnjali Pichai
ChildrenSon – Kiran Pichai
Daughter – Kavya Pichai
ParentsFather – Regunatha Pichai
Mother – LakshmiPichai
SiblingsBrother – Srinivasan Pichai
सुंदर पिचाई फैमिली

Favorite Things

Favorite CricketerSachin Tendulkar & sunil Gavaskar
Favorite ActressDeepika Padukone
SportsCricket & Football
Football Club FC Barcelona
Newspaper The Wall Street Journal

Social Media Links

Twitterhttps://twitter.com/sundarpichai
Instagram https://www.instagram.com/sundarpichai

आज सुंदर पिचाई वर्ल्ड के पावरफुल लोगों में से एक माने जाते हैं हमारे लिए गर्व की बात तो यह है कि एक भारतीय दुनिया की टॉप बेस्ट कंपनी का सीईओ है। आशा करते हैं आपको हमारे द्वारा बताई गई Sundar Pichai Biography Hindi में जानकारी पसंद आई होगी।

Advertisements

Leave a Comment